ब्रेकिंग न्यूज़
  • Home
  • अन्य
  • ACTION: भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा पार कर रहे DPC मदन त्रिपाठी, विभागीय जांच पूरी कार्यमुक्त करने के आदेश प्रस्तावित…
अनूपपुर अन्य उमरिया डिंडोरी ब्रेकिंग न्यूज़ शहडोल स्कैम

ACTION: भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा पार कर रहे DPC मदन त्रिपाठी, विभागीय जांच पूरी कार्यमुक्त करने के आदेश प्रस्तावित…

 

 

सूबे के मुखिया भले ही शासन के हर कार्यों में पारदर्शिता लानें और इसके क्रियान्वन के लिये हर संभव प्रयास कर रहे हों, लेकिन प्रशासनिक ऊंचे पदों पर आसीन कुछ अधिकारी इन पदों का खुलकर अपनी कमाई का जरिया बनाते नजर आ रहे हैं, इतना ही नहीं पदमोह और अपनी कार्यप्रणाली से सुर्खियों में रहनें वाले अधिकारी को इस बात की परवाह भी नहीं रहती कि वह जिस पद पर बैठकर पूरा खेल रहे हैं उनके इसके खेल पर वरिष्ठ अधिकारियों की नजर भी है।

 

शहडोल बुलेटिन । मामला शहड़ोल जिले के चर्चित डीपीसी मदन त्रिपाठी और उनकी कार्यप्रणाली से‌ जुड़ा हैं। बीते लंबे समय से एक ही पद पर आसीन डीपीसी की कार्यशैली पर सवाल खड़े होते रहे हैं। इनकी कार्यप्रणाली और हठधर्मिता की पुष्टि अब उच्च अधिकारी तक करते नजर आ रहे हैं। जिले के जिला पंचायत सीईओ नें बकायदे संभायुक्त को जारी एक पत्र में इस बात का उल्लेख भी किया है। जारी पत्र में मुख्य कार्यपालन अधिकारी नें स्पष्ट लेख किया‌ है कि जिला शिक्षा केन्द्र में बीते छह माह में कई वित्तीय अनियमितायें की गई हैं। इतना ही नहीं शासकीय‌ अधिकारों का ना सिर्फ इनके द्वारा दुरुपयोग किया गया है बल्कि विभिन्न राशि वसूली योग्य हैं। परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केन्द्र, शहड़ोल का अपनें पद पर बनें रहना उनकी स्वेच्छाधारिता, अनियमितताओं एवं वित्तीय अनियमितताओं को बढ़ावा देनें जैसा है जो शासकीय धन के दुरुपयोग को प्रोत्साहित करता है और गलत है, सीईओ जिला पंचायत नें इन्हें पद सो मुक्त करनें और इन पर विभागीय जांच करना प्रस्तावित किया है।

 

 

वहीं हाल ही में कस्तूरबा गांधी बालिका छात्रावास सोहागपुर व खांड में अधिक्षिका के पद पर तैनाती चर्चा का विषय बनी है। जानकारी के मुताबिक कक्षा – 6 से 8 तक के लिये संचालित कस्तूरबा गांधी बालिका छात्रावास, सोहागपुर में पिछले 9 वर्षों तक के.वी.श्याम अधिक्षिका थी। बीते लगभग 5 माह पूर्व रघुराज क्रमांक 2 की मंडावी मैडम को अधिक्षिका नियुक्त कर दिया गया। जिसके बाद इन्होनें प्रभार देकर एक बार फिर यह ज्ञानोदय आदिवासी विद्यालय, शहड़ोल में अधिक्षिका नियुक्त हो गई।

 

 

सूत्र बताते हैं कि मंडावी मैडम नें अपनें पद से इस्तीफा दे दिया और यह आरोप लगाया कि उक्त पद के लिये पचास हजार रुपये की मांग की जा रही है। बात नियमों की करें तो ऐसी दशा में उक्त पद पर इस सूची में पहले पायदान रहनें वाली को पद नियुक्ति कर दिया जाना चाहिये लेकिन ऐसा ना करते हुये नियुक्ति के लिये डीपीसी नें बकायदे नियुक्ति के लिये विज्ञापन जारी करा दिया लेकिन यह सार्वजनिक नहीं हुआ। जानकारों की मानें तो इस पद पर तैनाती के लिये उम्मीदवार की तलाश की जा रही है।

 

Related posts

MP के इस जिले में माफिया पर कसा रहा शिकंजा फिर एललिगल सेंड ट्रांसपोर्टेशन मामले में 02 ट्रेक्टर जप्त

Shahdol Bulletin

03 सितम्बर को अनूपपुर प्रवास पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, विभिन्न विकास कार्यों समेत भूमिपूजन एवं होगा लोकार्पण 

Shahdol Bulletin

Accident: 22 वर्षीय युवक की मौत, ट्रैक्टर चालक की लापरवाही बनी वजह

Shahdol Bulletin

लगातार: आओ दिखला दे KPS विद्यालय 1BHK मे 277 छात्र, गार्डन, लाइब्रेरी न खेलमैदान, कैसी मिल जाती है मान्यता बडा सवाल ….

Shahdol Bulletin

माफियाराज (5): 3000 की रेत 15000 हो गई पार, मानसून सत्र में हो रहा करोडों का व्यापार….कौन – कौन है सूत्रधार, बेखौफ़ खुलासा लगातार…

Shahdol Bulletin

Coronavirus positive cases in India rise to 84, confirms Health Ministry

admin

एक टिप्पणी छोड़ें