ब्रेकिंग न्यूज़
  • Home
  • शहडोल
  • माफियाराज (9) रेत ठेकेदार वंशिका ग्रुप के कर्मियों ने पिता पुत्र को बीच चौराहे पर दौडकर मारा, पुलिस ने 08 कर्मचारियों पर किया मामला दर्ज….
अनूपपुर अन्य उत्तर प्रदेश उमरिया छत्तीसगढ़ डिंडोरी दिल्ली ब्रेकिंग न्यूज़ भोपाल विंध्यांचल शहडोल

माफियाराज (9) रेत ठेकेदार वंशिका ग्रुप के कर्मियों ने पिता पुत्र को बीच चौराहे पर दौडकर मारा, पुलिस ने 08 कर्मचारियों पर किया मामला दर्ज….

कहते हैं कि चोर के जी थोर के जब तक मानसून सत्र में लगे प्रतिबंध के बावजूद खनन और परिवहन चालू था दबे पाँव जारी उत्खनन में करोडों रूपये का कारोबार कर डाला अक्टूबर आते ही नदियों से रेत तस्कर साहूकारी के लिए कायदे कानून की लिखा पढी और कलम की जगह बेसबाल, लाठी, डंडे ही लेकर कूद पड़े। ऐसे साहूकार विराटनगरी को कभी कभार ही देखने को मिलते हैं। जो साहूकारी मे 50 खदान ले ली पर कायदे कानून गिरवी रख लिए दिन रात खनन और परिवहन। तो शनिवार रविवार को जो हुआ वो तो होना ही था। पढें पूरी रिपोर्ट… आपके व्हाटस्एप कमेंट हमे और बेहतर करने का लक्ष्य देते हैं keep shearing and comment

 

 

 

 

 

 

सिटी डेस्क 

शहडोल बुलेटिन। आज भी सरकार किसी भी दल की हो बिना जनमत संग्रह से नही बनती, जनता के लिए जनता के द्वारा चुना गया प्रतिनिधि जनता की समस्याओं को सरकार तक पहुंच निराकरण की दहलीज तक पहुंचाने का काम करता है तभी घंटों धूप, पानी, ठंड में मतदान को जनता बूथ पर लाइन में खडी रहती है तो स्वाभाविक रूप से जन सुरक्षा की अहम जिम्मेदारी जनप्रतिनिधियों के साथ सरकार की भी है के किसी भी हाल में आदिवासी अंचल मे जनता का अहित नही होना चाहिए। वही इसके उलट रेत कारोबारी वंशिका ग्रुप के कर्ताधर्ता मानसून सत्र में लगे प्रतिबंध के बावजूद खनन और परिवहन कर ना जाने कितने जलीय जीव जंतुओं की हत्या कर डाली नदी का सीना छलनी करने के साथ नदियों का मूल स्वरूप बिगाड़ने का काम किया बिना भंडारण क्षमता खनिज विभाग को बतलाएं हजारों बडे ट्रक गोविंदगढ़, रीवा, सतना, छतरपुर एवं यूपी भेजे गए यहाँ 400% महंगी रेत बेची जा रही थी और अब लोगों (जनता) को सरे रह रास्ता रोककर पीटा जा रहा महज इसलिए की ये गुर्गे किसी भी हाल में आदिवासी बाहुल्य इलाके में अपनी धमक दिखाकर बाहुबली का तमगा हांसिल कर ले। इन सबके पीछे तथाकथित विपक्षी दल का विधायक भाजपा शासित प्रदेश में रेत खदान का ठेका लेकर नेतृत्वविहीन इलाके में चाँदी काट रहा था अब ज्यादा बोलने विरोध करने वालों की जुबान….

www.shahdolbulletin.org,  www.shahdolbulletin.org www.shahdolbulletin.org,  www.shahdolbulletin.org

 

 

 

जिसकी थाना बुढार मे बीते रविवार वंशिका कॉन्ट्रक्शन ग्रुप के 8 कर्मचारियो पर मामला दर्ज किया गया, कर्मचारियों की गुंडागर्दी सीसीटीव्ही पर बेनकाब हुई जिसमे रास्ता रोककर पिता पुत्र के साथ लाठी डंडे बेसबॉल से मारपीट की मामले में बुढार थाना पुलिस ने निष्पक्ष जांच और वायरल वीडियो की बाकायदा तफ्तीश के बाद सरजू पिता जनार्दन बरगाही दोनों की शिकायत पर वंशिका ग्रुप रेत ठेकेदारों के 8 लोगो के विरूद्ध 147, 148, 341, 294, 323, 506 के तहत मामला किया तो उधर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे मुरारी एण्ड कंपनी की एक ना चली अब खबरनबीश के माध्यम से  थाना प्रभारी बुढार को चेताया भी जा रहा है जिसका वायरल विडियों देखने से स्पष्ट हो जाता है कि शुरूआती दिनों में लगे प्रतिबंध के बावजूद खनन और परिवहन को कायदे कानून की लगातार धज्जियां उड़ाई जाती रही उसी समय रोक दिया होता तो स्वाभाविक रूप से स्थिति नियंत्रण में रहती आज जिले मे भय का माहौल निर्मित हो रहा है जबकि आदिवासी बाहुल्य यह अंचल शांत प्रिय है सरे राह डंडे बेसबाल चौक चौराहों पर लेकर मार पीट पुलिस तंत्र को ही कटघरे में खड़ा कर दिया था लेकिन गुंडो पर दर्ज मामला सारी जनचर्चाओ पर विराम लग गया। जिले के लोकप्रिय पुलिस अधीक्षक एवं थाना प्रभारी बुढार की संवेदनशीलता भले ही सत्तासीनो को नागवार गुजरे पुलिस अधीक्षक एवं थाना प्रभारी बुढार के रहते जनता का अहित नही होगा प्रमाणित हो गया।

 

गौरतलब हो कि इस मामले में खनिज विभाग, प्रदूषण एवं पर्यावरण विभाग से मिली छूट का नतीजा है वरना बोड्डिहा, रसपुर, लोढ़ी,  भटगवां, बटली, कसेड,  बटुरा की रेत खनन और परिवहन का करोडों रूपये राजस्व की चोरी और साठगांठ की प्रकाशित खबरों पर एक्शन ना लेना इन वंशिका ग्रुप के लोगों का हौंसला दोगुना कर दिया जिसकी परिणति बेसबाल, लाठी के बाद तमंचे और तलवारें खींची गई की खबरें सामने आ जाएंगी इस बात से इनकार नही किया जा सकता। जबकि कॉरपोरेशन, खनिकर्म भोपाल एवं खनिज विभाग शहडोल मे जमा दस्तावेजों की माने तो लिखे कायदे कानून के परिपालन में ही वंशिका ग्रुप कंपनी की रेत खदान निरस्त हो सकती है। जैसे चूंदी नदी मे फंसी पोकलेन मशीन का मालिक कौन है, भंडारण क्षमता पत्रक बिना जमा कर खनन और परिवहन कैसे शहडोल बुलेटिन के पास ऐसे तमाम पहलू पर जीपीएस रीडिंग विडियो फुटेज और दस्तावेज उपलब्ध हैं और कुछ दस्तावेजों को खनिज विभाग के अधिकारियों सहित कर्मचारियों ने नमक का हक अदा करते हुए दबा दिया। बहरहाल जिले में दहशतगर्दों के इस तांडव पर नकेल कसने के लिए किए गए प्रयास की सराहना की जा रही है।

 

Related posts

03 सितम्बर को अनूपपुर प्रवास पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, विभिन्न विकास कार्यों समेत भूमिपूजन एवं होगा लोकार्पण 

Shahdol Bulletin

माफियाराज (3): वैध ठेकेदार के अवैध रेत खनन से वन्यजीवों समेत नदियों के अस्तित्व पर गहराता संकट, मानसून सत्र में लगे प्रतिबंध के बावजूद वंशिका ग्रुप का जारी ताबड़तोड़ रेत खनन, सवालो के घेरे में कार्यवाही

Shahdol Bulletin

Live: 05 हितग्राही लाभांवित, स्ट्रीटवेंडर, पीएम स्वनिधि योजना वेबकास्ट लाईव का आयोजन

Shahdol Bulletin

माफियाराज 4: MP गजब है भंडारण की आड में लगे प्रतिबंध के बावजूद नदी की धार मोड, मत्स्य प्रजनन काल में खनन / परिवहन,  आखिर क्यों प्रशासनिक चाक चौबंद व्यवस्था खुुद कटघरे में दबंंगई या मैनेजमेंट….. 

Shahdol Bulletin

The Menace of Arbitrary Detention in India

admin

SECL: अवैध तरीके से किसने CUT किया मेन पाइप हजारों लीटर पानी सड़क पर बहा, कालरी कर्मचारियों की ये भी सुविधा का सत्याश….

Shahdol Bulletin

एक टिप्पणी छोड़ें