ब्रेकिंग न्यूज़
  • Home
  • भोपाल
  • माफियाराज 10: जल, जंगल और जमीन पर वंशिका ग्रुप रेत ठेकेदारों का कहर, MP के इस जिले में पर्यावरण संरक्षण दिवस धूम (कागज़ी)….
अनूपपुर उत्तर प्रदेश उमरिया कहानी छत्तीसगढ़ डिंडोरी दिल्ली ब्रेकिंग न्यूज़ भोपाल महाकौशल राजनीतिक राजस्थान विंध्यांचल शहडोल सस्पेंस स्कैम

माफियाराज 10: जल, जंगल और जमीन पर वंशिका ग्रुप रेत ठेकेदारों का कहर, MP के इस जिले में पर्यावरण संरक्षण दिवस धूम (कागज़ी)….

 

नियम विरुद्ध किया जाने वाला खनन भले ही वैध ठेकेदार वंशिका ग्रुप की काबिलियत है परंतु अवैध खनन और लाखों टन रेत के परिवहन से हर साल सरकारी खज़ाने को लाखों करोड़ रुपये का नुकसान हो रहा है अवैध खनन संबधित तमाम याचिकाओं की जानकारी के अनुसार नेशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल (NGT) ने भी अपने आदेश में कहा है कि अवैध खनन से सरकार को होने वाला नुकसान लाखों करोड़ का हो सकता है, याचिका में ये भी कहा गया था कि “अवैध खनन से पर्यावरण को नुकसान पहुंच रहा है”. और सुप्रीम कोर्ट ने फरवरी 2012 के अपने आदेश में रेत के खनन के बुरे प्रभावों का ज़िक्र किया था। बहरहाल मामले की ही तरह जिले की जीवनदायनी सोन सहित अन्य सहयोगी नदियों पर संकट के बादल छा गए यद्यपि इसे नजरअंदाज किया गया तो वो दिन दूर नहीं जब नदियों के आसपास इलाकों में मानव समेत जीव जंतुओं, पशु पक्षी पानी के लिए तरस जाएंगे। पर्यावरण संरक्षण दिवस पर पढें पूरी रिपोर्ट।

 

 

आडिटोरियल डेस्क। पर्यावरण भारत में साल 1986 में एक विधेयक पारित किया गया, जिसका नाम पर्यावरण (संरक्षण) अधिनियम था। इस विधेयक के तहत हवा, पानी और भूमि की सभी चीज़ों को पर्यावरण के अंतर्गत रखा गया। जबकि इस विधेयक की शक्तियां केंद सरकार को दी गईं। लेकिन इसके बावजूद मध्यप्रदेश के शहडोल जिले मे वंशिका ग्रुप द्वारा लगातार नियम विरूध ताबडतोड़ खनन खनन और नदियों के अस्तित्व मिटाने मे कोई कसर नहीं छोड़ी। इससे यह अनुमान लगाया जा सकता है कि केन्द्र सरकार की गाइडलाइन के परिपेक्ष्य में जिले के जिम्मेदार अधिकारी परिपालन कराने मे कोताही बरती जा रही है। जिससे इस आदिवासी अंचल मे इस तरह के बेलगाम लूटेरों की काबिलियत की बदौलत आगामी ग्रीष्मकालीन जल आपूर्ति संकट देखा जा सकता है इस बात से इनकार नही किया जा सकता। @[email protected]

 

 

विश्व पर्यावरण संरक्षण दिवस प्रति वर्ष पर्यावरण संतुलन को बनाए रखने एवं लोगों को जागरूक करने के सन्दर्भ में सकारात्मक कदम उठाने के लिए 26 नवम्बर को मनाया जाता है। यह दिवस संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (यूएनईपी) के द्वारा आयोजित किया जाता है। @[email protected]

 
 
इसे मानने का मुख्य उद्देश्य प्रदूषण को बढ़ते स्तर को कम करना, पर्यावरण को सुरक्षित और संरक्षित रखना आदि है। इसके साथ ही आने वाली पर्यावरणीय चुनौतियों से कैसे निपटा जाए, इस पर भी बल देना इसके उद्देश्यों में शुमार है। खासकर इस वर्ष हुए रेत खदानों के आवंटन के बाद से ही कोरोनाकाल, मानसून सत्र में लगे प्रतिबंध आदि मे आदिवासी बाहुल्य इलाके की खनिज संपदा का अंधाधुंध दोहन किया लाखों जलीय जीव जंतुओं की हत्या हुई। जिसमे रेत खनन नीति के विपरीत जाकर मात्र मुनाफाखोरी या कहे कि शहडोल जिले में खुल्लम-खुल्ला डकैती डाली। जिससे इस मामले में प्रशासनिक अधिकारियों की चाक चौबंद व्यवस्था की पैनी नज़रें गफलत में बंद पडीं है प्रतीत होता है।
इस अंचल में लगे प्रतिबंध के बावजूद खनन हुआ आधा दर्जन थाना क्षेत्र से गुजरते परिवहन कायदे-कानून को ताक पर रख कर तो किया साथ ही सैकडों करोडों रूपये की लागत से बनी सड़क तोडती हुए शहडोल का पर्यावरण संतुलन बिगाड़ने पर आमादा है और पिछले दिनों तो वंशिका ग्रुप के जरनल मैनेजर ने स्थानीय जनप्रतिनिधि भाजपा जिला अध्यक्ष कमल प्रताप सिंह को तीन तहसील दी गई जानकारी देकर जनहित के लिए लगातार उठने वाली आवाज के विश्वास को खरीद लिया चरितार्थ करने की कोशिश की जा रही है जबकि बीते दिनों वंशिका रेत खदान ठेकेदारों की मनमानी के विरुद्ध जनता की आवाज़ बने हुए थे भाजपा जिला अध्यक्ष। आज खुल्लम-खुल्ला जरनल मैनेजर वंशिका ग्रुप (रेत खदान ठेकेदार) मुरारी कटारे ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों की बेदाग साख पर बट्टा लगा दिया। मामले मे कितनी सच्चाई है यह तो समय के साथ पता चलेगा परंतु अंधाधुंध शहडोल जिले की हरियाली, पर्यावरण और जलीय जीवों की हत्या का मामला (लोढ़ी मे जब्त चैन माऊटिंग पोकलेन मशीन) और उस पर ठोस कार्यवाही का ना होने से पहले ही काफी नुकसान हो चुका है आगे भी इस पर नकेल की जगह ढील दी तो इसका दुष्परिणाम जिले की लगभग 15 लाख की आबादी को भोगना पड़ेगा। @[email protected]

Related posts

बडा सवाल : पहले दिखाया कार्यवाही का दम, अब बेलगाम अवैध संचालित कारोबार पुलिस की साख लग रहा बट्टा….

Shahdol Bulletin

10th Results: MP BORD ने 10 वीं का रिजल्ट किया जारी, अभिनव शर्मा ने किया टॉप, शहड़ोल के ऋषभ का सातवां व यशिका नें नौवां स्थान किया हासिल

Shahdol Bulletin

कार्यवाही की मांग : परखच्चे उड़ रही सडकों की दुर्दशा का कारण ओवरलोड रेत परिवहन एवं बेलगाम रेत खनन – शरद कोल

Shahdol Bulletin

दबंगई: प्राण घातक हमले में घायल युवक, दंबगों ने किया घर मे घुसकर लाठी डंडे से प्रहार धनपुरी थाना क्षेत्र का मामला

Shahdol Bulletin

माफियाराज (7): MP का यह जिला जहाँ बेअसर कार्यवाही – बेखौफ माफिया बेलगाम रेत खनन, वैध की आड़ मे अवैध NGT की अवहेलना  

Shahdol Bulletin

Iran says coronavirus kills another 97, pushing death toll to 611

admin

एक टिप्पणी छोड़ें