ब्रेकिंग न्यूज़
  • Home
  • शहडोल
  • वैध क्या अवैध खनन से भी पीछे नही हट रही वंशिका ग्रुप, पोड़ी की आड़ में करोडो का व्यापार, ग्रामीण कर रहे विरोध बडी घटना की आशंका
अनूपपुर उत्तर प्रदेश उमरिया कहानी छत्तीसगढ़ डिंडोरी दिल्ली ब्रेकिंग न्यूज़ भोपाल महाकौशल राजनीतिक राजस्थान विंध्यांचल शहडोल सस्पेंस स्कैम

वैध क्या अवैध खनन से भी पीछे नही हट रही वंशिका ग्रुप, पोड़ी की आड़ में करोडो का व्यापार, ग्रामीण कर रहे विरोध बडी घटना की आशंका

शहडोल बुलेटिन जिले में रेत का अवैध कारोबार थमनें का नाम नहीं ले रहा है। वंशिका ग्रुप के द्वारा लगातार जिले में वैध की आड़ में अवैध कारोबार किया जा रहा है। एक तरफ जहां प्रशासनिक स्तर से लेकर जनप्रतिनिधियों द्वारा दर्जनों शिकायत की गई और प्रशासनिक अधिकारियों से मामले में संज्ञान लेकर ठोस कार्यवाही के लिये कहा गया लेकिन जिले का प्रशासनिक अमला अब तक कोई ठोस कार्यवाही नहीं कर सका है। हालात यह है कि वंशिका ग्रुप के कर्ताधर्ता माफियाओं की तर्ज पर बेखौफ नियम कायदों को दरकिनार कर ना सिर्फ नदियों के प्राकृतिक स्वरुप को नष्ट करनें में तुले हुये हैं बल्कि लाखों करोड़ों के राजस्व का भी नुकसान कर रहे हैं।

 

कुछ ऐसी ही तस्वीरें शहड़ोल जिले के ब्यौहारी ईलाके से सामनें आई हैं जहां वंशिका ग्रुप के तानाशाही सो परेशान ग्रामीण अब इस कपकपाती‌ ठंड में तबू लगाकर प्रशासनिक कार्यवाही न्याय की गुहार लगा रहे हैं। कहनें को तो‌ ब्यौहारी क्षेत्र में वंशिका ग्रुप को पोड़ी में खदान प्रस्तावित है लेकिन इस खदान की आड़ में ईलाके के आस- पास कोई ऐसा क्षेत्र नहीं है जहां से इनके द्वारा अवैध रेत उत्खनन ना किया जा रहा हो, जानकारी के मुताबिक घियार पंचायत‌ कोटिगढ व हिडवाह पंचायत के चकरवाह ईलाके को सोन नदी‌ के‌ तट से बीते‌ कुछ माह में जमकर रेत उत्खनन किया गया है। जानकारों की मानें तो वंशिका ग्रुप द्वारा इन दोनों स्थानों से लगभग डेढ़ लाख घनमीटर रेत निकाला गया है जिसकी अनुमानित कीमत‌ कोरोड़ो में है खास तो यह है कि दर्जनों शिकायतों के बाद भी इस क्षेत्र में कोई प्रशासनिक कार्यवाही ना हो सकी। जिससे परेशान अब वंशिका के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर स्थानीय ग्रामीण अनशन का रुख अपनानें को विवश है।

 

 

हालांकि इस मामले मे प्रशासनिक रूख स्पष्ट तौर पर खनिकर्म और माइनिंग कॉर्पोरेशन की गाइड लाइन का उल्लंघन होते खुली आखो से देखते हुए भी ठोस कदम उठाने मे अक्षम नजर आ रहे है। वरना किसी की मजाल हो जो आज अभ्यारण्य सोन घडिय़ाल, संजयगाधी टाइगर रिजर्व, बांधवगढ़ और बटुरा घाट तक बिना दबिश और बिना प्रकरण नश्तीबद्ध किए रेत उत्खनन और परिवहन दर्जन भर थाने से बेखौफ जारी है लगातार मीडिया पर प्रकाशित खबर हर दिन वंशिका ग्रुप के लोगो द्वारा तोडा जा रहे कायदे-कानून की दुहाई दे रही है जिससे परिलक्षित होता जा रहा है मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का गोद लिया आदिवासी बाहुल्य इलाके की अस्मत लूटी जाए इसकी छूट प्रदेश की राजधानी से मिली या दिल्ली दरबार का चढावा भारी पड रहा है समझने की जरूरत है।

 

Related posts

BJP lodges complaint after Jyotiraditya Scindia’s motorcade blocked in Bhopal

admin

बंद खदान, अवैध भण्डारण और रोजाना लाखों का खेल… माफिया का रेत मैनेजमेंट, खनिज अधिकारी की शाख पर लगा रहा बट्टा

Shahdol Bulletin

दबंगई: FOREST ने पकड़ी रेत चोर साहू ब्रदर्स की डग्गी, जिला बदर अपराधी की टोली छुडा ले गई….शहर की शांति व्यवस्था मे बिगड़ने का संकेत..

Shahdol Bulletin

लापरवाही : सूबे के मुख्यमंत्री को सुनाओ समस्या हमको और भी काम है, पॉवरकट से परेशानियों का विभाग के पास नही समाधान ग्रामीणों का आरोप

Shahdol Bulletin

हादशा: बस और मोटरसाइकिल की टक्कर 01 की मौत…

Shahdol Bulletin

दबिश: DM के आदेश पर DEO की कार्यवाही, थाना क्षेत्र बुढार 26 लीटर तो 06 लीटर सोहागपुर मे शराब जब्त  

Shahdol Bulletin

एक टिप्पणी छोड़ें